Home विदेश बांग्लादेश ने भारत में अवैध तरीके से रह रहे आदिवासियों की सूची मांगी

बांग्लादेश ने भारत में अवैध तरीके से रह रहे आदिवासियों की सूची मांगी

by awaztimes
bangladesh border

बांग्लादेश ने भारत में अवैध तरीके से रह रहे अपने देश के लोगों की सूची मांगी है। साथ ही कहा है कि वह ऐसे लोगों को स्वदेश वापसी की अनुमति देगा। भारत के राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के बारे में पूछे गए एक सवाल पर विदेश मंत्री एके अब्दुल मोमेन ने कहा, ‘भारत-बांग्लादेश के संबंध बहुत मधुर हैं। इससे उस पर कोई असर नहीं पड़ने वाला है। भारत ने इसे आंतरिक मामला करार देते हुए बांग्लादेश को आश्वस्त किया है कि इससे उस पर कोई असर नहीं पड़ने वाला।’
मोमेन ने अपनी व्यस्तता का हवाला देते हुए गुरुवार को अपने भारत दौरे के रद कर दिया था। इस संबंध में पूछे जाने पर फिर उन्हीं कारणों को दोहराया। भारत के विरोध की अटकलों को खारिज करते हुए उन्होंने कहा कि कुछ भारतीय आर्थिक कारणों से बिचौलियों के जरिये बांग्लादेश आ जाते हैं। हम उन्हें वापस भेज देते हैं।
बांग्लादेश सरकार ने रजाकारों की सूची जारी की
बांग्लादेश सरकार ने 1971 की आजादी की लड़ाई में दुश्मन सेना का साथ देने वाले 10,789 रजाकारों की सूची जारी कर दी है। रविवार को प्रेस वार्ता के दौरान मुक्ति आंदोलन विभाग के मंत्री एकेएम मुजम्मिल हक ने सूची को सार्वजनिक किया। रजाकारों ने बांग्लादेश की आजादी के समय पाकिस्तानी सेना का साथ देते हुए हिंदुओं को निशाना बनाया था।

Related Articles

यहाँ टिप्पणी करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.